EducationNewsUttar Pradesh

PCS 2016 का रिजल्ट घोषित, कानपुर की जयजीत कौर बनीं टॉपर

लोकसेवा आयोग ने शुक्रवार को पीसीएस-2016 परीक्षा का अंतिम परिणाम घोषित कर दिया है। इस परीक्षा में कानपुर की जयजीत कौर ने पहला स्थान प्राप्त किया है। पति के प्रोत्साहन पर जयजीत ने नौकरी छोड़कर परीक्षा की तैयारी की थी।

सौरभ शुक्ला
लखनऊ। लोक सेवा आयोग ने सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा (पीसीएस) 2016 का अंतिम परिणाम शुक्रवार को घोषित कर दिया। कानपुर के खुशहालपुरी की जयजीत कौर होरा ने पीसीएस में टॉप किया है। प्रतापगढ़ के विनोद कुमार पांडेय को दूसरा, जबकि प्रयागराज के नवदीप शुक्ला को तीसरा, फतेहपुर के प्रकाश उत्तम को चौथा और सिद्धार्थनगर के सतीश चंद्र त्रिपाठी को पांचवा स्थान मिला है।

633 पदों के लिए हुई इस परीक्षा में कानपुर की जयजीत कौर ने पहला स्थान प्राप्त किया है। लखनऊ के आईईटी कॉलेज से बीटेक करने के बाद जयजीत ने मुम्बई से एमबीए किया था। फिलहाल, वह आईटी सेक्टर में जॉब कर रही थीं। पति आशुतोष के प्रोत्साहन पर उन्होंने नौकरी छोड़कर पीसीएस की तैयारी शुरू की और अपने पहले ही प्रयास में शीर्ष स्थान प्राप्त किया है। जयजीत का परिवार कानपुर में रहता है। उनके पिता व्यवसायी हैं।

लड़कियों की शिक्षा के लिए काम करना चाहती हैं जयजीत
अपने पहले ही प्रयास में यह सफलता हासिल करने वाली जयजीत लड़कियों की शिक्षा के लिए काम करना चाहती हैं। एनबीटी से बातचीत में उन्होंने कहा कि वह समाज में लड़कियों के साथ होने वाले व्यवहार से व्यथित हैं। उन्होंने कहा कि लड़कियों को यह पता ही नहीं है कि शिक्षा उनका अधिकार है। ऐसे में अगर मौका मिला तो वह प्रयास करेंगी कि शिक्षा से जुड़ी योजनाओं के बारे में लड़कियों को जानकारी और लाभ दोनों मिले।

पति भी हुए चयनित
इस परीक्षा में जयजीत के पति आशुतोष मिश्रा भी चयनित हुए हैं। पत्नी की तरह उन्होंने भी बीटेक के बाद एमबीए किया है और मुम्बई में दोनों साथ ही नौकरी कर रहे थे। दोनों ने साल 2015 में शादी के बाद नौकरी छोड़ने और प्रशासनिक सेवा की तैयारी करने का निर्णय लिया था। आशुतोष का परिवार लखनऊ में रहता है और पिता प्रशासनिक सेवा में रह चुके हैं। आशुतोष की बड़ी बहन एसडीएम हैं।

नायब तहसीलदार के 209 पदों पर भी हुआ चयन
चयनित पदों में से सबसे ज्यादा 209 पद नायब तहसीलदार के हैं। डिप्टी कलक्टर के 53, डिप्टी एसपी के 52, असिस्टेंट कमिश्नर वाणिज्यकर के 14, खंड विकास अधिकारी के 21, सहायक आयुक्त उद्योग के एक, जिला प्रोबेशन अधिकारी के सात, वाणिज्यकर अधिकारी के 56, सहायक श्रमायुक्त के तीन, कृषि सेवा समूह ख के चार, उप निबंधक के 14, जिला उद्यान अधिकारी के एक, जिला गन्ना अधिकारी के सात, जिला कमांडेंट होमगार्ड के छह, जिला समाज कल्याण अधिकारी के तीन, लेखाधिकारी नगर विकास और सहायक निदेशक उद्योग (हथकरघा) के दो-दो, सहायक निदेशक उद्योग (विपणन) के एक, सहायक आयुक्त सहकारिता के 10, जिला प्रशासनिक अधिकारी परिवार कल्याण के 18, जिला लेखा परीक्षा अधिकारी के 59, सहायक अभियोजन अधिकारी परिवहन के एक और जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी के 23 पदों पर चयन हुआ है।

परीक्षा के दो साल बाद घोषित हुआ था परिणाम
पीसीएस 2016 की प्रारंभिक परीक्षा 20 मार्च 2016 को हुई थी। कुल 436413 आवेदकों में से 250696 परीक्षा में शामिल हुए थे। मुख्य परीक्षा के लिए 14615 अभ्यर्थियों को सफल किया गया था। लिखित परीक्षा के दो साल बाद 16 नवंबर 2018 को मुख्य परीक्षा का परिणाम घोषित किया गया था। मुख्य परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों का साक्षात्कार 10 दिसंबर 2018 से 24 जनवरी 2019 के बीच संपन्न हुआ। 1993 अभ्यर्थियों में से 1935 साक्षात्कार में शामिल हुए थे।

अभी लटका है पीसीएस 2017 मेंस का परिणाम
लोक सेवा आयोग की पीसीएस 2017 मुख्य परीक्षा का परिणाम अभी लटका हुआ है। 2017 की मुख्य परीक्षा जून 2018 में हुई थी। इस भर्ती में डिप्टी कलक्टर 22 और डिप्टी एसपी 90 सहित 27 प्रकार के 677 पदों पर चयन किया जाना है।

पीसीएस प्री 2018 का परिणाम अगले माह
लोक सेवा आयोग की पीसीएस 2018 प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम अगले माह के पहले सप्ताह तक जारी होने की संभावना है। 924 पदों के लिए पीसीएस 2019 की प्रारंभिक परीक्षा 28 अक्तूबर 2018 को हुई थी। कुल 635844 पंजीकृत परीक्षार्थियों में से 62.42 प्रतिशत परीक्षा में शामिल हुए थे।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close