NewsUttar Pradesh

JCI मनस्विनी ने साकार की संस्कारों की परिभाषा

सिमरन गुप्ता
झांसी। मातृ दिवस (मदर्स डे ) के उपलक्ष्य में जेसीआई झांसी मनस्विनी ने अपने चैप्टर की सभी माताओं और बच्चोंं के साथ एक नया रंग दिया। अपने नाम को सार्थक करते हुए हिन्दुस्तानी परम्परा और जेसीज संगठन की परम्पंराओं को निभाते हुए कार्यक्रम का आयोजन किया। कार्यक्रम की शुरुआत गणेश वंदना के साथ चैप्टर की अध्यक्ष रजनी गुप्ता, सचिव उषा सेन व कोषाध्यक्ष कल्पना खर्द ने दीप प्रज्जवलित करके व मनीषा गोयल द्वारा आस्था वाचन कर कार्यक्रम का शुभारम्भ‍ किया गया।

मनस्विनी की अध्यक्ष रजनी गुप्ता ने बताया कि मातृत्व् से ही सारा प्रेम आरम्भ् और अंत होता है। मां ही हमारी पहली शिक्षक है। दया और प्यार की प्रतिमूर्ति है। कार्यक्रम में सभी बेटियों ने पण्डि‍त जी द्वारा किए गए मंत्रोच्चा‍रण के साथ अपनी अपनी मां की विधिवत पूजा अर्चना की और सम्मान स्वरुप उन्हें मोती की माला पहनाई। सभी माताओं ने अपनी बेटियों को टीका लगाकर आर्शीवाद दिया और सुनहरे भविष्य की मंगल कामना की। उसके बाद मां और बेटी की जोड़ी ने एक ही रंग के परिधान में रैम्प वॉक की। डॉ. श्वेता यादव की जोशीली बातों ने सभी का मन मोह लिया। इस दौरान माताओं व बेटियों ने एक दूसरे के बारे में विचार व्यक्त किए और जीवन के संस्मरण सुनाए। सभी जोड़ियों ने नृत्य की शानदार प्रस्तुति दी।
इस मौके पर आकांक्षा द्विवेदी,मनस्विनी गुप्ता,राधा अग्रवाल, चंदा अरोरा, प्रमिलेश निरंजन, रजनी साहू, वर्षा साहू, संगीता साहू, गुंजन गोयल, अदिति साहू, काव्या अग्रवाल, आदि मौजूद रहीं। कार्यक्रम के अंत में संयोजिका संजू सैनी ने आभार व्य्क्त किया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close