NewsPoliticsUttar Pradesh

CM योगी ने संतों के साथ बैठक करके कुंभ पर्व तिथियों की घोषणा, गर्मी में किया तूफानी दौरा

उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखाडा परिषद के पदाधिकारियों के साथ आगामी कुम्भ के शाही स्नान की तिथियों की घोषणा की।

अखिलेश कुमार
इलाहाबाद। इलाहाबाद पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को अर्धकुंभ मेले को लेकर चल रहे निर्माण कार्यों का मौके पर जाकर निरीक्षण किया। सीएम योगी इस चिलचिलाती धूप में भी वह हर उस स्थान पर गए जहां पर निर्माण कार्य चल रहा है। इस दौरान उन्होंने अफसरों को वाराणसी की घटना का हवाला देते हुए सुरक्षा के हर मानक का ध्यान रखने का निर्देश दिया। सीएम योगी आदित्यनाथ शहर के तूफानी दौरे पर थे। अलग-अलग हिस्सों में चल रहे विकास कार्यों का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अखाडा परिषद के पदाधिकारियों के साथ आगामी कुम्भ के शाही स्नान की तिथियों की घोषणा की ।बता दें की पहली बार किसी मुख्यमंत्री ने शाही स्नान की तिथियों की घोषणा की है।

दिन भर शहर में घूमा CM का काफिला
सीएम योगी के दौरे को लेकर प्रशासन सतर्क रहा और शहर भर में अचूक सुरक्षा व्यवस्था रही । हाईकोर्ट के सामने बन रहे फ़्लाइओवर के निरिक्षण पर पंहुचे सीएम ने जिले के अधिकारियों सहित काम कर रहे इंजीनियर से बात की । और पूरी सुरक्षा के तहत काम पूरा करने का निर्देश दिया। साथ ही मुख्यमंत्री ने इंजीनियर से पूछा कि आपको क्या लगता है कि वाराणसी की घटना क्यों हुई है? जिस पर सभी कुछ भी बोलने से बचते रहे मुख्यमंत्री का काफिला पुरे शहर में दिन भर घूमता रहा ।नागवासुकी मंदिर के पास चल रहे विकास कार्य और सुंदरीकरण का निरीक्षण किया ।तय समय में कुंभ से पहले काम को पूरा करने का निर्देश दिया ।

स्नान घाटों का काम शुरू करने का निर्देश
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का काफिला संगम तट पर पहुंचा ।जहां पर गंगा जल को स्वच्छ करने और गंगा घाटों को साफ सुथरा रखने के निर्देश दिए ।साथ ही मुख्यमंत्री ने संगम तट पर कहां.कहां घाट बनने तय हुए हैं, इसकी जानकारी ली । उन्होंने जल्द गंगा घाटों पर काम शुरू कराने का निर्देश दिया ।इस दौरान मुख्यमंत्री संगम तट पर लेटे हुए हनुमान जी का दर्शन करने पहुंचे । महंत नरेंद्र गिरी ने मन्दिर की पूजा अर्चना करवाई और सीएम ने बड़े हनुमान जी महाराज का दर्शन प्राप्त किया।

बाघंबरी गद्दी मठ में किया CM योगी ने भोजन
सीएम योगी अपने तय कार्यक्रम के अनुसार अल्लापुर स्थित बाघंबरी गद्दी मठ पहुचें जहाँ अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी सहित तेरह आखाड़ो के महंत संत उपस्थित रहे । मठ में नाथ संप्रदाय के परंपरा के अनुसार जलाभिषेक कर स्वागत किया गया। योगी आदित्यनाथ से मिलने के लिए बाघंबरी गद्दी पर शहर के गणमान्य अन्य लोग उपस्थित थे ।बाघंबरी मठ में अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेंद्र गिरी सहित निर्वाणी अखाड़ा महानिर्वाणी पंच दशनाम जूना अखाड़ा निर्मोही अखाड़ा अटल अखाड़ा उदासीन बड़ा उदासीन अग्नि अखाडे के प्रतिनिधि शामिल हुए।बाघंबरी गद्दी मठ में संतो महंतों के लिए भोजन किया मुख्यमंत्री सहित संतो को आश्रम में बने उदाल रोटी सब्जी और खीर परोसी गई ।

संतो की सरकार से क्या अपेक्षा है
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ संगम नगरी पहुंच कर अखाड़ा परिषद के सदस्यों के साथ सर्किट हाउस में बैठक की। आगामी कुंभ में संतों को दी जाने वाली व्यवस्था पर सरकार का पक्ष रखा साथ ही संतो को सरकार से और क्या अपेक्षा है ,इसको जानकारी भी ली। बैठक में जिले के अधिकारियो के साथ ही मेला अधिकारी मेला एसपी मेला प्रभारी मौजूद रहे ।बैठक में संतों की समस्याओं का तत्काल निराकरण का आदेश दिया। वहीं मुख्यमंत्री ने आगामी कुंभ के शाही स्नान की तिथियां घोषित की।

कल्पवासीयों के स्नान पर्व
शाही स्नान के अतिरिक्त कल्पवासीयो के लिए तीन स्नान पर्व जिसमे पौष पूर्णिमा का स्नान 21 जनवरी 2019 दूसरा माघी पूर्णिमा का स्नान 19 फरवरी 2019 को होगा तीसरा और अंतिम महाशिवरात्री का स्नान 4 मार्च 2019 को पड़ेगा । मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह कैबिनेट मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना महापौर अभिलाषा गुप्ता कौशांबी के सांसद विनोद सोनकर और सासंद श्यामा चरण गुप्ता सहित स्थानीय विधायक मौजूद रहे।

कुम्भ के शाही स्नान की तिथियाँ
14 जनवरी से शुरू हो रहे माघ मॉस के कुम्भ मेले में सामान्यता छह स्नान पर्व होते है, लेकिन कुभ के दौरान शंकराचार्य नागा संतो महंतो के लिए तीन स्नान पर्व महत्वपूर्ण माने जाते है। जिनमे पहला शाही स्नान मकर संक्रांति पर 15 जनवरी 2019 को होगा। दूसरा शाही स्नान मोनी अमावस्या 04 फरवरी 2019 को संपन्न होगा। तीसरा शाही स्नान बसंत पंचमी का 10 फरवरी 2019 का होगा।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close