KanpurNewsUttar Pradesh

CM योगी ने किया गंगा पुल और गल्ला मंडी का दौरा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गल्ला मंडी और गंगा पुल का निरीक्षण किया। योगी ने यहां तीन दिवसीय यूपी डिफेंस एक्सपो - 2018 के समापन समारोह की अध्यक्षता की।

सौरभ शुक्ला
कानपुर नगर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कानपुर शहर की नौबस्ता गल्ला मंडी और गंगा पुल का निरीक्षण किया। योगी ने यहां तीन दिवसीय यूपी डिफेंस एक्सपो – 2018 के समापन समारोह की अध्यक्षता की। अधिकारियों का कहना है कि गेहूं खरीद में कथित तौर पर सक्रिय बिचौलियों को लेकर मिल रही शिकायतों को लेकर मुख्यमंत्री योगी ने अचानक निरीक्षण करने का फैसला किया। सीएम ने चंद्रशेखर आजाद कृषि विश्वविद्यालय के मैदान में कुछ शस्त्रों पर भी हाथ आजमाया।

योगी आदित्यनाथ ने गल्ला मंडी में धान क्रय केंद्र का निरीक्षण भी किया। इस दौरान उन्होंने एक महिला किसान से वहां पर मिल रही सुविधा के बारे में पूछताछ की। उन्होंने वहां पर केंद्र प्रभारी से कहा कि अगर किसान के धान की नीलामी भी हो तो समर्थन मूल्य से कम धनराशि किसी भी किसान को न मिले। आज उनका प्रदेश में पहले धान क्रय केंद्र का औचक निरीक्षण था। उन्होंने कहा कि प्रदेश में धान की खरीद समयबद्ध हो और हर किसानों को समर्थन मूल्य से अधिक मिल सके इसके लिए प्रदेश में क्रय नीति को लागू किया गया है।

योगी ने यहां अधिकारियों से भी बातचीत की और गेहूं खरीद के रिकॉर्ड जांचे। उन्होंने कहा कि सरकार चाहती है कि हर किसान को अपनी फसल का न्यूनतम समर्थन मूल्य मिले। गल्ला मंडी से योगी पुराने गंगा पुल गए। गंगा को स्वच्छ बनाने के लिए चल रहे कामों पर उन्होंने असंतोष जाहिर किया। साथ कुंभ से पहले काम को खत्म करने के निर्देश भी दिए।

जानकारी मुताबिक डिफेंस एक्सपो में शिरकत कर रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिफेंस कॉरिडोर की घोषणा की थी। उन्होंने कहा कि उसके बाद दिसम्बर तक 1 लाख करोड़ का निवेश कराने की योजना है, इसलिए निवेशक बेफिक्र होकर निवेश करें। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगले पांच वर्ष में 50 हजार करोड़ के निवेश का लक्ष्य है। योगी ने कहा कि निवेश करने वालों को प्रदेश में पूरी सुरक्षा मिलेगी और उनके काम में किसी तरह की कोई भी रुकावट नहीं होगी।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close