CrimeNewsUttar Pradesh

Breaking : पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की जेल में गोली मारकर हत्या

मुन्ना बजरंगी को कोर्ट में पेशी के लिए झांसी से बागपत जेल लाया गया था। मुन्ना बजरंगी को पूर्वांचल के दूसरे माफिया डॉन मुख्तार अंसारी का दाहिना हाथ माना जाता है।

– मुन्ना बजरंगी की फ़ाइल फ़ोटो।

आशुतोष त्रिपाठी
मेरठ (बागपत)। पूर्वांचल के माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। मुन्ना बजरंगी की हत्या उत्तर प्रदेश के बागपत जेल के अंदर हुई है। पिछले साल 2017 में बसपा के पू्र्व विधायक लोकेश दीछित से मुन्ना बजरंगी और सुल्तीन ने रंगदारी मांगी थी। साथ ही जान से मारने की भी धमकी दी थी। इसी केस में आज उसकी कोर्ट में पेशी थी मुन्ना बजरंगी को झांसी से बागपत जेल लाया गया था।

शुरुआती मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हत्या करने वाले कैदी का नाम सुनील राठी है। उसने गोली मारकर मुन्ना बजरंगी की हत्या कर दी। हालांकि, जेल में कैदी के पास पिस्तौल कैसे आई, यह बड़ा सवाल है। मुन्ना बजरंगी को पूर्वांचल के दूसरे माफिया डॉन मुख्तार अंसारी का दाहिना हाथ माना जाता है।

– गोली लगने के बाद मृत मुन्ना बजरंगी।

बताया गया कि कुछ दिन पहले ही मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने अपने पति की जान को खतरा बताया था। मुन्ना की पत्नी ने दो दिन पहले लखनऊ में अपने पति की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाया था।

मुन्ना बजरंगी का असली नाम प्रेम प्रकाश सिंह है। उसका जन्म 1967 में उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के पूरेदयाल गांव में हुआ था। उसके पिता पारसनाथ सिंह उसे पढ़ा लिखाकर बड़ा आदमी बनाने का सपना संजोए थे। मगर प्रेम प्रकाश उर्फ मुन्ना बजरंगी ने उनके अरमानों को कुचल दिया। उसने पांचवीं कक्षा के बाद पढ़ाई छोड़ दी। इसके बाद जुर्म की दुनिया में कदम रख दिया।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close