IndiaPolitics

स्मृति ईरानी ने कपिल सिब्बल पर लगाए गंभीर आरोप, राहुल गांधी से भी पूछे सवाल

मनप्रीत कौर
नई दिल्ली। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल पर जमीन घोटाले का आरोप लगाया है। यह आरोप केंद्रीय मंत्री ने दो पत्रिकाओं के लेखों का हवाला देकर कांग्रेसी नेता कपिल सिब्बल पर मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी एवं सीबीआई जांच का सामना करने वाले व्यक्ति के साथ आर्थिक लेनदेन करने का आरोप लगाया और राहुल गांधी से सवाल किया कि क्या उन्हें यह सब कुछ स्वीकार्य है? बीजेपी नेता एवं सूचना प्रसारण मंत्री ईरानी ने दो लेखों का उल्लेख करते हुए आरोप लगाया कि पूर्व केंद्रीय मंत्री ने किस तरह से कम पैसों में जमीन खरीद कर अनुचित लाभ कमाया।
K
स्मृति ईरानी ने बीजेपी मुख्यालय में संवाददाताओं से कहा कि इस पूरे मामले पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को बताया चाहिए कि क्या उन्हें यह सब कुछ स्वीकार्य है और कपिल सिब्बल को भी अपना पक्ष रखना चाहिए. उन्होंने कहा कि जिस समय कांग्रेस की सरकार थी, उस समय एसबीआई के एक अफसर को रिश्वत देने के संबंध में सीबीआई जांच कर रही थी . जिस शख्स का नाम सामने आया वह वर्ल्ड विंडो ग्रुप के चेयरपर्सन पीयूष गोयल थे. दक्षिण अफ्रीका के खोजी पत्रकारों ने दावा कि यह व्यक्ति मनी लॉन्ड्रिंग केस में संलिप्त पाया गया।

उन्होंने आरोप लगाया इस पूरे प्रकरण हिंदुस्तान की वेबसाइइट एवं एक अन्य लेख में स्टोरी लिखी है जो कि कपिल सिब्बल को बड़े सवालों के घेरे में लाती है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अब प्रश्न यह उठता है कि जिस व्यक्ति पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप हो एवं सीबीआई जांच का सामना किया हो, उसके साथ सिब्बल साहब हो आर्थिक लेनदेन की जरूरत क्यों पड़ी?

उन्होंने कहा कि कुछ लोग कह सकते हैं कि यह सिब्बल साहब का अधिकार है कि जिस व्यक्ति पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप हो एवं सीबीआई केस का सामना किया हो, उससे वे कुछ भी खरीद सकते है। ईरानी ने कहा, ‘‘ लेकिन बड़ा सवाल यह है कि क्या यह सब कुछ राजनीतिक तौर पर राहुल गांधी को स्वीकार्य है . ’’ उन्होंने कहा कि बर्ल्ड विंडो ग्रूप के अध्यक्ष पीयूष गोयल के खिलाफ उस समय जांच की गई जब संप्रग सत्ता में थी।

ईरानी ने सवाल पूछा कि सिब्बल को ऐसे शख्स के साथ व्यापार करने की क्या जरूरत थी ? उन्होंने दावा किया कि दक्षिण अफ्रीका के पत्रकारों ने इस मामले में कपिल सिब्बल से संपर्क किया था, लेकिन उन्होंने इस मामले में झूठ बोला. ईरानी ने कहा कि सिब्बल ने दक्षिण अफ्रीकी पत्रकारों से तथ्य छुपाया। एक सवाल के जवाब में मंत्री ने कहा कि ऐसा ही व्यक्ति कपिल सिब्बल को कारोबारी सौदे के क्यों भाया, इसका जवाब तो सिब्बल ही दे पायेंगे। कांग्रेस के मंच पर ऐसा व्यक्ति खड़ा हो, वह क्या नैसर्गिक लगता है ?

पलटवार में सिब्बल ने कसे तंज
कपिल सिब्बल ने पलटवार करते हुए कहा कि उन्हें सीबीआई पेपर लीक मामले की कोई चिंता नहीं है। उन्होंने कहा कि उन्हें ऐसे आरोप लगाने के बजाए बच्चों के भविष्य की चिंता करनी चाहिए। सिब्बल ने तंज कसते हुए कहा कि आधार की जानकारी लीक हो रही है, पेपर लीक हो रहे हैं लेकिन कुछ लोगों की डिग्री की जानकारी लीक नहीं हो रही है। सिब्बल ने यह भी कहा कि स्मृति को मनी लॉन्ड्रिंग की परिभाषा भी पता नहीं है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close