KanpurNewsUttar Pradesh

सहकारी समितियों में काबिज़ माफिया राज को उखाड़ फेंकना प्रमुख ध्येय

भारती के स्थापना दिवस के उपलक्ष्य में रविवार को कार्यक्रम

सचिन शुक्ला
कानपुर नगर। सहकार भारती कानपुर महानगर द्वारा सहकार भारती का स्थापना दिवस रविवार को मनाया गया। इस उपलक्ष्य में दोपहर ब्रह्म नगर में अजय प्रताप सिंह भदौरिया के निवास पर कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि पूर्व सभासद एवं स्वच्छता अभियान कानपुर महानगर से जुड़े समाजसेवी आनन्द त्रिवेदी ने सहकारिता के क्षेत्र में बढ़-चढ़कर सहयोग का आह्वान किया। उन्होंने छोटे-छोटे स्वयं सहायता समूह बनाकर लघु उद्योगों को प्रोत्साहन देने, महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने तथा स्वच्छता की दिशा में ध्यान देने पर बल दिया।

विशिष्ट अतिथि उपभोक्ता प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष अजय प्रताप सिंह भदौरिया ने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में अनेक सहकारी समितियाँ कार्यरत हैं, जिनमें माफिया राज हावी है। जनजागरूकता के अभाव में सहकारी समितियों में चुनिंदा दबंगों-माफियाओं एवं उनके परिजनों व खासमखास लोगों का एकाधिकार है। वर्तमान समय में हम लोगों का प्रमुख ध्येय सहकारी समितियों से माफिया राज को समाप्त करना है, जिसके लिए जनजागरण किया जा रहा है, साथ ही नये संस्कारवान सदस्य बनाकर तथा युवा शक्ति को जोड़कर सहकारिता के क्षेत्र में आगे किया गया है। उनको सहकारी समितियों में सशक्त रूप से खड़ा करके आगे बढ़ाकर उन समितियों में माफिया राज को न केवल बड़ी चुनौती दी जा रही है, बल्कि कई सहकारी समितियों में माफिया राज को समाप्त करने में सफलता भी मिली है।

कार्यक्रम में उपस्थित सहकार भारती के प्रदेश सह संगठन प्रमुख गजेन्द्र जी ने सहकार भारती के संस्थापक लक्ष्मण राव माधव राव इनामदार जी के जीवन और सहकारिता के क्षेत्र में उनके योगदान पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम की अध्यक्षता महानगर अध्यक्ष कन्हैया लाल सिंह ने की, जबकि संचालन महानगर महामंत्री अभिषेक सिंह ने किया।

इस अवसर पर सहकार भारती के कानपुर महानगर संयोजक विजय शुक्ला, उपाध्यक्ष देवेन्द्र प्रताप सिंह, संगठन प्रमुख राजेंद्र दीक्षित, सह संगठन प्रमुख सचिन शुक्ल, सह महिला प्रमुख मीनू राय, आर.के. बाजपेयी, रज्जू अवस्थी, धर्मवीर सिंह, वीरेन्द्र सेठ, धीरज सिंह, उमेश कटियार, कुश मेहरोत्रा, विश्रान्त यादव, आशीष मिश्रा ‘मुकेश’ उपस्थित रहे। 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close