IndiaNewsPolitics

सरकार आई तो तख्ती लटकाकर घूमेंगे TMC के गुंडे : CM योगी आदित्यनाथ

सीएम योगी ने कहा, ममता सरकार ने मोहर्रम के कार्यक्रम को मंजूरी दी थी और दूर्गापूजा के कार्य में रोक लगाने का काम किया था।

अखिलेश कुमार
कोलकाता। पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बीच छिड़े सियासी संग्राम के बीच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रोक के बावजूद बंगाल के पुरुलिया पहुंचे। पुरुलिया में जनसभा को संबोधित करते हुए योगी ने कहा कि वेस्ट बंगाल में अराजक, अलोकतांत्रिक, असंवैधानिक तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) की सरकार है। बता दें कि इसके पहले सीएम योगी का हेलिकॉप्टर झारखंड के बोकारो में लैंड हुआ, जिसके बाद वह सड़क मार्ग से पुरुलिया में जनसभा करने पहुंचे।

पुरुलिया में जनसभा को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, डेढ़ साल पहले इसी बंगाल में शारदीय नवरात्रि की दुर्गापूजा और मोहर्रम का कार्यक्रम एक साथ देश में पड़ा था। ममता सरकार ने मोहर्रम के कार्यक्रम को मंजूरी दी थी और दूर्गापूजा के कार्य में रोक लगाने का काम किया था।

वेस्ट बंगाल में ममता सरकार पर हमला करते हुए यूपी के मुख्यमंत्री योगी ने कहा, ममता ने कहा कि यूपी संभल नहीं रहा। मैं कहना चाहता हूं कि यूपी बहुत अच्छे ढंग से संभल रहा है, जिस दिन बीजेपी की सरकार बंगाल में आएगी टीएमसी के गुंडे अपने गले में तख्ती लटकाकर वैसे ही घूमेंगे, जैसे उत्तर प्रदेश में एसपी-बीएसपी के गुंडे अपने गले में तख्ती लटकाकर चलते हैं और कहते हैं कि हमें बख्श दो, हम किसी के साथ अन्याय नहीं करेंगे।

सीएम योगी ने कहा, ‘जिस धरती ने विपरीत परिस्थितियों में देश को संबल दिया था। आप सब जानते हैं कि ये बंगाल की ही धरती है जिसमें रामकृष्ण परमहंसजी ने आध्यात्मिक साधना के दम पर लोगों को नया संबल दिया था। स्वामी विवेकानंदजी ने पूरी दुनिया के अंदर रहने वाले हिंदुओं को कहा था कि गर्व से कहो हम हिंदू हैं। यह भाव पैदा करने वाली धरती है। स्वामी विवेकानंदजी ने दुनिया के अंदर रहनेवाले भारतवासियों से कहा था कि अपने धर्म और संस्कृति पर गौरव की अनुभूति करो। यह वही बंगाल की धरती है, जिसने इस देश को राष्ट्रगान गुरुदेव रविंद्रनाथ टैगोर के द्वारा दिया। राष्ट्रगान का वह गौरव इस धरती ने देश को दिया।

अलोकतांत्रिक सरकार के खिलाफ मोर्चा लेने वालों का अभिनंदन
योगी आदित्यनाथ ने कहा, मुझे आश्चर्य होता है कि बंगाल की धरती तो वास्तव में भारतीय जनता पार्टी की धरती होनी चाहिए क्योंकि बीजेपी पूर्व जनसंघ के संस्थापक अध्यक्ष डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी इसी बंगाल की धरती की देन थे। बीजेपी कार्यकर्ताओं ने, जिन्होंने बंगाल के अंदर एक निर्मम, एक बर्बर, एक अलोकतांत्रिक, एक भ्रष्ट ममता बनर्जी के नेतृत्ववाली टीएमसी सरकार के खिलाफ मोर्चा लिया, मैं इसके लिए आप सभी का हृदय से अभिनंदन करता हूं।

अब शिलॉन्ग जाकर लगाएं हाजिरी
कार्यक्रम में योगी ने कहा, ‘मोदी सरकार द्वारा दिया गया गरीबों के मकान का पैसा टीएमसी की सरकार और टीएमसी के गुंडे खा जाते हैं। यहां की सरकार भ्रष्ट है। आपने देखा होगा कि कैसे बंगाल के अंदर यहां की मुख्यमंत्री सारदा चिटफंड घोटाले के एक भ्रष्ट अधिकारी को बचाने का काम कर रही हैं। आज भी सुप्रीम कोर्ट में कहा गया है कि जिस भ्रष्ट अधिकारी को बचाने का काम ममता बनर्जी कर रही थीं, उन्हें सीबीआई के पास जाना चाहिए। यहां नहीं, शिलॉन्ग में जाकर हाजिरी लगाएं और सीबीआई कोर्ट में राज को खोलें कि सारदा चिटफंड घोटाले में कौन-कौन लोग जिम्मेदार हैं। एक प्रदेश की मुख्यमंत्री धरना देने के लिए बैठ जाएं लोकतंत्र में इससे निंदनीय नहीं हो सकता है।

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि हमारे यहां भी पंचायत और स्थाई निकाय के चुनाव हुए लेकिन हिंसा नहीं हुई। लेकिन बंगाल में पंचायत चुनाव में बीजेपी के कार्यकर्ताओं की निर्मम हत्या की गई। पीएम मोदी ने गांव, गरीब और समाज के तमाम तबके के लिए काम किया है, लेकिन टीएमसी गरीबों की योजनाएं रोक रही है। अब बारी बंगाल की है। हम बंगाल की तस्वीर बदलेंगे। पीएम मोदी का पूरे विश्व में सम्मान दिया जाता है, क्योंकि उनका काम बोल रहा है। आज किसान से लेकर हर गरीब खुश है। हर किसान को छह हजार रुपये देने की बात की गई है। इससे सीधा पैसा किसानों को मिलेगा। पीएम के फैसले से बंगाल के किसानों को लाभ मिलेगा। टीएमसी की सरकार बेईमान है। टीएमसी को नैतिकता के आधार पर सत्ता में बने रहने का अधिकार नहीं है। योगी आदित्यनाथ ने रैली के दौरान मंच से ‘गर्व से कहो हम हिंदू हैं’ का नारा भी लगाया।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close