IndiaNewsPolitics

सत्ता में आए तो देंगे ‘वन रैंक, वन पेंशन’ : राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पूर्व सैनिकों से एक कार्यक्रम में वादा किया है कि कांग्रेस पार्टी को 2019 की सत्ता मिलती है तो कांग्रेस वन रैंक, वन पेंशन पर अपने वादे को निभाएगी।

अल्का विज
नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को उनसे मिलने गए सेवानिवृत्त सैनिकों के एक समूह से कहा कि सत्ता में आने पर कांग्रेस ’वन रैंक, वन पेंशन’ (OROP) के मु्द्दे पर किए अपने सभी वादों को पूरा करेगी।पूर्व सैनिकों के साथ बैठक में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि अगर उनकी पार्टी 2019 के संसदीय चुनाव के बाद सत्ता में आती है तो ओआरओपी सहित सभी मांगें पूरी की जायेंगी।

उन्होंने 30 मिनट तक चली इस बातचीत में कहा कि यह भारी-भरकम राशि ओआरओपी मसले को हल करने के लिए पर्याप्त है। कांग्रेस का आरोप है कि राफेल सौदे मामले में मोदी सरकार अनिल अंबानी के नेतृत्व वाली कंपनी के पक्ष में झुकी हुई है। कंपनी इन आरोपों से इनकार कर चुकी है। इससे एक दिन पहले सीबीआई में मचे घमासान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का नेतृत्व करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा था कि पीएम ने देश के लोगों का 30 हजार करोड़ रुपया अनिल अंबानी की जेब में डाल दिया।

राहुल ने कहा था, पीएम भाग सकते हैं, वह छिप सकते हैं लेकिन अंत में सच्चाई सामने आएगी। सीबीआई डायरेक्टर को हटाने से कोई लाभ नहीं होगा।

इस मुलाकात के दौरान राहुल ने एक बार फिर से राफेल मुद्दे को उठाया। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने अनिल अंबानी को 30,000 करोड़ का फायदा पहुंचाया है। राहुल ने जम्मू कश्मीर मामले पर भी मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जम्मू कश्मीर मामले में भी मोदी सरकार की रणनीति सही नहीं है। जिसका खामियाजा हमें सैनिकों की शहादत देकर चुकाना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि अनिल अंबानी को कुछ नहीं करने के लिए सरकार 30,000 करोड़ दे सकती है लेकिन सैनिकों को OROP नहीं दे सकी है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close