IndiaNewsPolitics

लालू के बड़े बेटे ने तेजप्रताप के तलाक के मामले में कहा कि ये परिवार का मामला है

तेजस्वी यादव ने कहा कि घरेलू मामले लोगों को प्रभावित करते हैं लेकिन केवल उनको जो परिवार के सदस्य हों। ये सार्वजनिक मुद्दे नहीं हैं।

नेहा पाठक
नई दिल्ली। आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव की ओर से पटना फैमिली कोर्ट में अपनी पत्‍नी ऐश्‍वर्या राय से तलाक को लेकर दायर वाद के मामले में आरजेडी नेता तेजस्‍वी यादव ने अपनी चुप्‍पी तोड़ी है। उन्‍होंने इस पारिवारिक विवाद को लेकर मीडिया में चल रही खबरों पर नाखुशी जाहिर की है। तेजस्‍वी ने कहा कि पारिवारिक मामलों को सार्वजनिक नहीं किया जाना चाहिए। बता दें कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने ऐश्वर्या से शादी तोड़ने के लिए शुक्रवार को तलाक के लिए अर्जी दी थी। तेजप्रताप और ऐश्वर्या की शादी को छह महीने हुए हैं।

तेजस्वी यादव ने कहा कि एक महिला कांस्टेबल की मौत के बाद शुक्रवार को बड़ी संख्या में पुलिसकर्मी सड़कों पर उतर आये थे। यह एक गंभीर मुद्दा है तथा कानून एवं व्यवस्था की स्थिति के लिए चिंता की बात है और मीडिया द्वारा इसे सही ढंग से दिखाया जा रहा था। लेकिन शाम तक सब कुछ भुला दिया गया और एक परिवार में घटित बातें आकर्षण का केन्द्र बन गईं। तेजस्वी यादव ने कहा कि घरेलू मामले लोगों को प्रभावित करते हैं लेकिन केवल उनको जो परिवार के सदस्य हों। ये सार्वजनिक मुद्दे नहीं हैं। इस बीच राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि परिवारों में मनमुटाव हो जाते हैं और उनका समाधान भी हो जाता है।

राजद राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह ने इसे पारीवारिक विवाद बताया है। उन्होंने कहा है कि परिवारों में ऐसे मनमुटाव होते रहते हैं, जिनका समाधान भी हो जाता है। राजद नेता ने कहा कि तलाक मामले का तेज प्रताप के राजनीतिक करियर पर कोई असर नहीं पड़ेगा। आपको बता दें कि रघुवंश सिंह राजद के बड़े नेता माने जाते हैं। वैशाली लोकसभा क्षेत्र में बड़ा प्रभाव रखने वाले रघुवंश 2014 में मोदी लहर हार गए थे

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close