IndiaNewsPoliticsUttar Pradesh

‘यूपी डिफेंस इंडस्ट्रियल कॉरिडोर’ के शुभारम्भ में रक्षामंत्री ने कहा कि स्वदेशी उपकरणों से देश होगा आत्मनिर्भर

सीएम योगी ने कहा कि अलीगढ़ न सिर्फ ताले बल्कि हार्डवेयर के लिए जाना जाता है। लेकिन पहले की सरकारों ने कभी यहाँ के हुनर को नहीं समझा।

अजीत कुमार राय
अलीगढ़। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अलीगढ़ के जीटी रोड स्थित होटल रॉयल रेजीडेंसी में डिफेंस कॉरिडोर इंडस्ट्रियल इन्वेस्टर्स समिट का शुभारंभ किया। रक्षा मंत्री ने रक्षा उद्योगों से अपनी निर्यात क्षमता बढ़ाने की अपील की है, क्‍योंकि पूरी दुनिया में गुणवत्‍तापूर्ण रक्षा उत्‍पादों की मांग बढ़ रही है। इस मौके पर रक्षा मंत्री ने कहा कि हम यूपी के डिफेंस कॉरिडोर के लिए कटिबद्ध हैं। हर महीने कार्यक्रम रख रहे हैं। यूपी को पता नहीं कैसे शक हुआ कि यहां कोरिडोर का कुछ नहीं हो रहा। हमारे यहां आकर नार्थ ब्लॉक में मुठभेड़ किया। उस वक्त डिफेंस सेक्रेटरी प्लानिंग में लगे थे। यूपी हो या तमिलनाडू हो, सारी तैयारी ठीक से चल रही है। सीएम से वक्त मंगा और एक मिनट नहीं लगाया योगीजी ने।

इस मौके पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि अलीगढ़ से उधमियों के साथ सांसद सतीश गौतम के नेतृत्व में आ करके मुझसे दो-तीन बार मिले। वैसे भी हम कटिबद्ध है कि यूपी के डिफेंस कॉरिडोर को ढ़ीला नहीं होते हुए हर महीना कुछ न कुछ कार्यक्रम और इंडस्ट्रीज को दौड़ते हुए उसको आगे बढ़ाने का काम करना है। उन्होंने कहा कि जितना आप सेना, एयर फोर्स को आपूर्ति कर रहे हैं। उतना एक्सपोर्ट भी करें। हम 10 साल तक आपको ऑर्डर देंगे। टेस्ट के बाद क्वालिटी ठीक होने पर हम भी आपका उत्पाद लेंगे। भारतीय सेना के द्वारा पूरे मार्केट सपोर्ट हमको मिलना चाहिए। ऐसे मानसिकता में बदलाव आना चाहिए क्योंकि आपके प्रोडक्ट की क्वालिटी भी उचित होनी चाहिए।

कार्यक्रम में सीएम बोले कि अलीगढ़ न सिर्फ ताले बल्कि हार्डवेयर के लिए जाना जाता है। लेकिन पहले की सरकारों ने कभी यहाँ के हुनर को नहीं समझा। डिफेंस कॉरिडोर की घोषणा को धरती पर उतारने के लिए प्रधानमंत्री नेरुचि ली है उत्तर प्रदेश में आज रक्षा मंत्री के आगमन पर हृदय से उनका अभिनंदन करता हूं उनका स्वागत करता हूं रक्षा मंत्री देश की रक्षा के बारे में चिंता कर रहा है यह सब लोग सुनते रहे होंगे रक्षा मंत्री सियाचिन और अरुणाचल के दौरे पर जा रही हैं यदि आप सुनते रहेंगे।

इस मौके पर रक्षा राज्य मंत्री सुभाष भामरे ने कहा की मैं अपने आप को भाग्यशाली समझता हूं जो इस ऐतिहासिक क्षण का हिस्सेदार बना। मैं देख रहा हूं, कि किस तरह से उधोग के क्षेत्र में माहौल बदल रहा है। जिस प्रकार से मेक इन इंडिया में 25 में से 22 क्षेत्रों को चुना। ये एक सुनहरा मौका। पहली बार यूपी उधोग के क्षेत्र में अग्रणी हो रहा है।

इससे पहले, केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दीप प्रज्वलन के साथ ही कार्यक्रम की शुरुआत की। मुख्यमंत्री रक्षा मंत्री के साथ विदेशी राजदूत भी कार्यक्रम में शामिल हुए हैं। जीटी रोड स्थित रॉयल रेजीडेंसी में 19 कंपनियों ने रक्षा उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई है। सेना से जुड़े विभिन्न उत्पादों के उद्यमियों को जानकारी दी गई अलीगढ़ के उद्यमियों ने भी रॉयल रेजीडेंसी में हार्डवेयर उत्पादों की प्रदर्शनी लगाई।

एलान के महज छह महीने के भीतर पहले चरण का शुभारंभ
प्रस्‍तावित रक्षा गलियारे के पहले चरण का शुभारंभ इसी वर्ष फरवरी महीने में लखनऊ में हुई इनवेस्‍टर समिट के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के एलान के महज छह महीने के भीतर हो गया। इस अवसर पर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि प्रदेश में अब सुरक्षा का माहौल है लिहाजा यह पूरे देश में निवेश के लिए सबसे आकर्षक स्‍थान बन गया है और जल्‍द ही तैयार हो रहा आगरा-झांसी-चित्रकूट को जोड़ने वाला बुंदेलखंड एक्‍सप्रेस-वे रक्षा गलियारे में अहम भूमिका निभाएगा। उत्‍तर प्रदेश में डिफेंस कारिडोर के छह प्रमुख केन्‍द्र हैं। यह केन्‍द्र आगरा, अलीगढ़, लखनऊ, कानपुर, चित्रकूट और झांसी में होंगे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close