NewsUttar Pradesh

यूपी की खराब क़ानून व्यवस्था का शिकार हुए विवेक और उनका परिवार : पंखुड़ी पाठक

पंखुड़ी ने कहा कि जिस तरह से अपराधी पूरे ठाठ से मीडिया से बात कर रहा था, इससे पता चलता है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नही है।

ज्योति सिंह
लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बीते शुक्रवार को एक हेडकांस्टेबल द्वारा ऐप्पल कंपनी के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी। आज विवेक के परिवार से मिलने पर सोशलिस्ट पंखुड़ी ने कहा कि कानून व्यवस्था ध्वस्त और खराब है। विवेक इस भ्रष्ट एवं बेईमान व्यवस्था के शिकार हो गये। जिस प्रकार से उन्हें गोली मारी गई और अपराधी पूरे ठाठ से मीडिया से बात कर रहा था, इससे पता चलता है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नही है।

अखिल भारतीय प्रगतिशील ब्राह्मण परिषद की ओर से सोशलिस्ट नेता पंखुड़ी पाठक और तनुज पाण्डेय ने स्व. विवेक तिवारी की पत्नी तथा बच्चों से मुलाकात के बाद बीजेपी सरकार पर जमकर आरोप लगाये। इस दौरान पंखुड़ी पाठक ने कहा कि विवेक तिवारी इस भ्रष्ट एवं बेईमान व्यवस्था के शिकार हो गये। जिस प्रकार से उन्हें गोली मारी गई और अपराधी पूरे ठाठ से मीडिया से बात कर रहा था, इससे पता चलता है कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नही है।

तनुज पाण्डेय ने कहा कि सरकार फर्जी मुठभेड़ के नाम पर निरपराध लोगों को मार रही है। इसका नमूना है जितेन्द्र यादव जिसको नाम पूछकर गोली मार दी गयी थी। इसकी वजह से आज वह अपाहिज की जिंदगी जीने को मजबूर हैं। मुकेश राजभर हों चाहे सुमित गुर्जर या फिर विवेक तिवारी, इन सब की हत्या में एक ही मानसिकता देखी जा सकती है। रामराज्य के नाम पर जंगल राज की स्थिति पूरे यूपी में बन गई है। मृत विवेक तिवारी की पत्नी कल्पना को ढ़ांढ़स बंधाया और कहा कि इस दु:ख की घड़ी में ब्राह्मण परिषद उनके परिवार के साथ है। प्रतिनिधि मंडल में यतीन्द्र पांडेय, परशुराम सेना के विनय तिवारी और मंगल पांडेय सेना के दिव्यांशु तिवारी आदि लोग उपस्थित रहे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close