EducationNewsUttar Pradesh

मुख्यमंत्री योगी ‘जीनियस सिस्टर्स’ की प्रतिभा के हुए मुरीद, दी आर्थिक मदद

पीलीभीत की रहने वाली हैं दोनों बहनें। शार्प मेमोरी के संबंध में बना चुकी हैं कई रिकॉर्ड, सुपर फास्‍ट मेमोरी मशीन नाम से मशहूर है।

हिमानी बाजपेई शुक्ला
लखनऊ। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ जीनियस सिस्टर्स हनी सिंह व हंसी सिंह से मिलकर उनके मुरीद हो गए और दोनों को 51-51 हजार रुपये की सहायता राशि प्रदान की।इसके साथ ही मुख्‍यमंत्री ने दोनों के उज्‍ज्‍वल भविष्‍य की कामना की। दोनों बहनों ने इस दौरान सीएम योगी से अपनी बात रखी। दोनों यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ जीनियस सिस्टर्स हनी सिंह व हंसी सिंह से मिलकर उनके मुरीद हो गए और दोनों को 51-51 हजार रुपये की सहायता राशि प्रदान की बहनें सरकार के बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान से भी जुड़ी हुई हैं।

दोनों बहनों से मिलने के बाद मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा ‘मैंने दोनों को बधाई दी। दोनों अपनी प्रतिभा के कारण बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान से भी जुड़ी हुई हैं। राज्‍य सरकार उनकी मदद करेगी। उन्‍हें बस पास मुहैया कराए जाएंगे और साथ ही दोनों को 51-51 हजार रुपये की सहायता राशि भी दी जाएगी।’ योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि सरकार भविष्‍य में भी उन्‍हें मदद करती रहेगी ताकि दोनों बेहतर कार्य करती रहें और दूसरों को भी प्रेरित करती रहें।

अंतरराष्‍ट्रीय स्‍तर पर भारत की सुपर फास्‍ट मेमोरी मशीन के नाम से मशहूर हिंदुस्‍तान की सबसे कम उम्र की जीनियस बहनें हनी सिंह और हसी सिंह अभी स्‍कूल में पढ़ती हैं। हनी सिंह की उम्र 11 साल है और वह राधा माधव पब्लिक।स्‍कूल बरेली में सातवीं क्‍लास में पढ़ती है। हनी सिंह 55 मिनट में सामान्‍य ज्ञान के 16 सौ प्रश्‍नों के जवाब देती है।

वहीं हसी सिंह की उम्र आठ साल है। वह पीलीभीत के बीसलपुर के सरस्‍वती शिशु मंदिर में पांचवीं क्‍लास में पढ़ती है। वह 20 मिनट में सामान्‍य ज्ञान के 700 प्रश्‍नों के जवाब देती है। दोनों बहनें तीन मिनट में देश-प्रदेश की करीब 250 राजधानियां बता देती हैं। साथ ही दोनों बहनों के नाम 5 मिनट में 250 देशों और प्रदेशों के क्षेत्रफल भी बता देने का रिकॉर्ड है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close