NewsUttar Pradesh

फतेहपुर : ‘DM’ की नई पहल से हर हाल में सुधरेगी ‘शैक्षिक गुणवत्ता’

एकल विद्यालयों में पढ़ाने जाएंगे बीटीसी-डीएलएड प्रशिक्षु। प्राचार्य ने कहा निरंतर चलती रहेगी यह नई व्यवस्था।

अखिलेश कुमार अग्रहरि
फतेहपुर। परिषदीय स्कूलों की शैक्षिक गुणवत्ता सुधारने के लिए डीएम ने नई पहल की है। इस पहल से परिषदीय स्कूलों की शैक्षिक गुणवत्ता बहुत बेहतर हो जाएगी। शैक्षिक गुणवत्ता सुधारने में बीटीसी-डीएलएड प्रशिक्षुओं की मदद ली जाएगी। डीएम के निर्देश पर एकल विद्यालयों में प्रशिक्षुओं को भेजा जाएगा। जो नौनिहालों को पढ़ाएंगे और विद्यालय की प्रत्येक गतिविधियों की रिपोर्ट भी तैयार करेंगे। साथ ही अपना प्रशिक्षण भी बेहतर बनाएंगे। जो रिपोर्ट तैयार करेंगे वह सीधे डायट प्राचार्य और डीएम को अवगत कराएंगे।

शहर के पटेलनगर स्थित पटेल प्रेक्षागृह में डीएम आंजनेय सिंह की अध्यक्षता में कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें डीएम, डायट प्राचार्य आनन्दकर पांडेय, बीएसए शिवेन्द्र प्रताप सिंह ने अपने अपने मुखारबिन्दुओं से प्रशिक्षुओं को शिक्षा से सम्बन्धित विभिन्न प्रकार के टिप्स दिए। प्रशिक्षुओं ने अफसरों के बताए ज्ञान को बड़े ही ध्यान से सुना और जीवन में उतारने का संकल्प लिया। खास बात यह है कि यह नई पहल डीएम ने की है। इसके तहत एकल विद्यालयों में प्रशिक्षुओं को पढ़ाने के लिए भेजा जाएगा। डीएम का मानना है कि इससे प्रशिक्षुओं का प्रशिक्षण बेहतर होगा। उन्हें पढ़ाने की जानकारी विधिवत हो जाएगी। साथ ही स्कूलों की भी शैक्षिक गुणवत्ता बेहतर होगी।

इस मौके पर बीईओ मुख्यालय राकेश सचान, बीईओ पुष्पराज सिंह, परीक्षा प्रभारी डायट दीपक यादव सहित सैकड़ो की संख्या में बीटीसी, डीएलएड प्रशिक्षु मौजूद रहेंगे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close