KanpurNewsPoliticsUttar Pradesh

प्रसपा (लोहिया) द्वारा केंद्र व राज्य सरकार के विरोध में विशाल धरना

राष्ट्रीय महासचिव राम नरेश यादव ने भाजपा को बताया जुमलेबाजी की दुकान। बसपा-सपा गठबन्धन को बताया नापाक रिश्तों की शुरूआत कहा किसी भी प्रकार से प्रसपा भाजपा की बी टीम नही।

हरिओम गुप्ता
कानपुर नगर। प्रगतिशील समाजवादीपार्टी लेहिया कानपुर ग्रामीण व नगर द्वारा शक्षिक पार्क में विशाल धरने का आयोजन किया गया जिसमें राष्ट्रीय महासचिव राम नरेश यादव मनी ने कार्यकर्ताओं का मनोबल बढाते हुए भाजपा पर तीखे प्रहार किए तथा कहा कि किसान बेहाल है, जीएसटी और नोटबंदी के कारण व्यापारी तबाह हो गया है। प्रसपा के गठन से प्रदेश की जनता में उम्मीद जागी है। उन्होने कहा इस प्रदर्शन से साबित हो चुका है कि प्रसपा किसी भी प्रकार से भारती जनता र्पाअी की बी टीम नही है और सांप्रदायिक ताकतों को रोकने में मुख्य भूमिका अदा कर रही है।

उन्होने बसपा व सपा के गठबन्धन को उन्होने नापाक रिश्तों की शुरूआत कहा और मायावती पर तंज कसते हुए कहा अखिलेश यादव को बसपा सुप्रीमो पर विश्वास करना गठबंधन करना आत्महत्या करने के बराबर साबित होगा। इसके साथ ही भाजपा की केंद्र व प्रदेश सरकार में जनता से जुडे मूददों को सुलझाने की दिशा में उ0प्र0 के राज्यपाल को जिलाधिकारी के माध्यम से सिटी मजिस्ट्रेट को 18 सूत्रीय मांगो का ज्ञापन सौंपा। प्रसपा कार्यकर्ता बडे चैराहे से होते हुए कचहरी में जिलाधिकारी को ज्ञापन देना चाहते थे लेकन पुलिस प्रशासन से टकराव की स्थित व तीखी बहस को देखते हुए सिटी मजिस्ट्रेट को बुलाकर शिक्षक पार्क गेट पर ही ज्ञापन दिया गया जिसें गड्ढा मुक्त सकडो, क्रासिंग पर ओवर ब्रिज, पुलिस की अवैध वसूली से लगने वाले जाम, टेनरी वालों को उत्पीडन बंद करने, किसान आयोग का गठन करने, पिछडो की जाति आधारित जनगणना करनो, शिक्षामित्रों को कानून बनाकर समायोजित करने, भ्रष्टाचार पर रोक लगाने, गरीबी हटाओं, रोजगार दिलाओं, दवाई पढाई मुफ्त करने, दैनिक मजदूरी बढाने, पशुओ के आवास का उचित प्रबंध तथा पुरानी पेंशन नीति लागू करने के साथ अन्य मांगे की गयी। धरने का संचालन जिला महासचिव सचिन वोहरा ने किया।

इस अवसर पर नगर अध्यक्ष महताब आलम, कानपु ग्रामीण के जिला अध्यक्ष शिव मोहन सिंह चंदेल, सुधाकर त्रिपाठी, नगर महासचिव सुनील महिवाल, आशीष चौबे, दीपू पांडे, अनूप त्रिपाठी अन्नू हरि प्रसाद कुशवाहा, यामीन खान, राजू ठाकुर, अमित भाटिया, मीतू, शमीम मसंूरी, मो0 शकील, राकेश यादव, रवि चन्देल, शिव सिंह यादव, आरती अजमानी, श्याम सिंह भदौरिया, नीरज यादव, मनोज अग्रवाल सहित सैकडों की संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

धरने के दौरान प्रसपा नगर और ग्रामीण के बीच हुआ उपद्रव
भाजपा केंद्र व राज्य सरकार की नीतियों के विरोध में शिक्षक पार्क में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया द्वारा दिये जा रहे धरने के दौरान ग्रामीण कानपुर के संयोजक ग्रामीण जिले के प्रमुख महासचिव हरी प्रसाद कुशवाहा के हाथ से नगर अध्यक्ष महताब आलम के सचिव द्वारा माइक छीनने के कारण हमकर उपद्रव हुआ। इस दौरान सचिन वोहरा ने नगर के पदाधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई।

प्रसपा ग्रामीण जिलाध्यक्ष शिव सिंह चंदेल बवाल के चलते मंच छोड कर ग्रामीण पदाधिकारियों के बीच आकर बैठ गये। कार्यक्रम में आये राष्ट्रीय महासचिव राम नरेश यादव मिनी व प्रदेशसचिव सुधाकर त्रिपाठी ने बीच बचाव किया। विरोध इतना बढ गया कि जिलाअध्यक्ष ग्रामीण रे दो टूक शब्दों में सभी पदाधिकारियों से कहा कि यदि आज के बाद कानपुर नगर और कानपुर ग्रामीण का संयुक्त कार्यक्रम होता है तो वह कानपुर ग्रामीण के पदाधिकारी उसमें हिस्सा कभी नही लेंगे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close