NewsUttar Pradesh

‘नया सवेरा’ अभियान से प्राथमिक विद्यालय को हैप्पी स्कूल बनाने की मुहिम को लगे पंख

स्कूल के बच्चों को टाट से मिली मुक्ति। स्कूली बच्चों की मिली डेस्क बेंच की सौगात। रेनबो मुहिम के तहत " नया सवेरा " अभियान का आगाज।

कौन कहता है आसमां में सुराख नहीं हो सकता
एक पत्थर तो तबियत से उछालो यारो।

हिमानी शुक्ला
लखनऊ। बेसिक शिक्षा परिषद द्वारा संचालित प्राथमिक विद्यालयों में पढ़ने वाले बच्चों के शैक्षिक, बौद्धिक, मानसिक, शारीरिक विकास से जुड़े सरोकार के साथ-साथ अभावग्रस्त बच्चों की पठन पाठन से जुड़ी जरूरतों कॉपी, पेंसिल, रबर इत्यादि की व्यवस्था जैसे सामाजिक सरोकार को अपनी मुहिम बना कर शैक्षिक उन्नयन की दिशा में सतत प्रयासरत रहने वाली बाल चौपाल ने सामजिक सेवा के लिये प्रतिबद्ध इनर व्हील क्लब ऑफ लखनऊ प्रगति के साथ मिल कर लखनऊ जनपद के सरोजनीनगर खण्ड क्षेत्र में स्थित प्राथमिक विद्यालय सरैया को हैप्पी स्कूल बनाने का संकल्प लेकर स्कूल की दशा को सुधारने के लिये प्रयास शुरू कर दिया है।

इनर व्हील क्लब ऑफ लखनऊ प्रगति की अध्यक्ष गरिमा वर्मा, बाल चौपाल संरक्षक अनूप मिश्रा अपूर्व और बाल चौपाल अध्यक्ष आनन्द कृष्ण मिश्रा ने एकजुट होकर विद्यालय की दशा में सुधार लाकर बच्चों को एक बेहतर शैक्षणिक वातावरण देने के उद्देश्य सबसे पहले स्कूल की टूटी बाउंड्री को ग्राम प्रधान के जरिये बनवाने की पहल की गयी। मुख्य शिक्षक रविन्द्र सिंह, सहायक शिक्षक सुमन दुबे, राजेद्र यादव पूर्व प्रधान और वर्तमान ग्राम प्रधान के अथक सहयोग से मजबूत व 9 फिट ऊंची बाउंड्री वॉल का निर्माण करवाया। गेट लग जाने के बाद छुट्टा जानवरों का विद्यालय में आना बंद होगया। जिससे बच्चों और पेड़-पौधों को सुरक्षात्मक परिवेश मिला है।

इनर व्हील क्लब ऑफ लखनऊ प्रगति और बाल चौपाल द्वारा ” नया सवेरा ” अभियान के तहत प्राथमिक विद्यालय सरैया को हैप्पी स्कूल बनाने की मुहिम को पंख लग चुके है विद्यालय में एक स्मार्ट क्लास बनाने के प्रयास में डेस्क -बेंच उपलब्ध करवायी गयी। बच्चों की खेल प्रतिभा को विकसित करने के उद्देश्य से स्पोर्ट्स क्लब का गठन किया और बच्चों को बैट -बाल, फुटबॉल, बैटमिंटन, कैरम आदि खेल सामग्री भेंट की गई।

इनर व्हील क्लब ऑफ लखनऊ की प्रेसिडेंट गरिमा वर्मा और बाल चौपाल संरक्षक अनूप मिश्रा अपूर्व द्वारा बच्चों को नृत्य, खेल और कला आदि के लिये चलाये जा रहे निःशुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम की जानकारी देते हुए कहा कि जल्द ही इन बच्चों के बौद्धिक और मानसिक विकास के लिये मोटिवेशनल वर्कशॉप का आयोजन भी किया जायेगा जिसके तहत संघर्ष करके जीवन में कामयाबी पाने वाले लोगों से बच्चों को मिलवाया जाएगा ताकि उन्हें प्रेरणा मिले।

चटाई पर बैठ कर पढ़ने वाले बच्चे ठंड में अक्सर बीमार पड़ जाते हैं, उनकी इस तकलीफ़ को दिल की गहराई से समझ कर बाल चौपाल और इनर व्हील क्लब ऑफ लखनऊ प्रगति ने अनूठी पहल करते हुए प्राथमिक विद्यालय सरैया में क्लास 1 और 2 के नन्हें-मुन्ने बच्चों के बैठने की बेहतर व्यवस्ता को अंजाम देते हए आकर्षक डेस्क-बेंच भेंट किये। स्पोर्ट क्लब का गठन करके बैट बॉल, फुटबॉल, बैटमिंटन, कैरम आदि खेल सामग्री भी प्रदान की। स्कूल में पढ़ने वाले अभावग्रस्त बच्चों के पारिवारिक जनों को ठंड से निजात दिलाने के मानवीय सेवा उद्देश्य से कंबल भी भेंट किये गये। इस मुहिम के तहत भविष्य के अभियान में क्लास में स्मार्ट बोर्ड, क्लीन टॉयलेट, शुद्ध पेयजल व्यवस्था, पुस्तकालय, सामान्य ज्ञान, कला और आदि प्रतियोगिताएं आयोजित कराने का प्रस्ताव शामिल है। साथ ही साथ खेल उत्सव का आयोजन करके बच्चो की खेल प्रतिभा को निखारने की पहल भी की जा चुकी है।

स्कूल और गाँव की बालिकाओं के साथ महिलाओं को भी कुकिंग, बेकरी, ब्यूटी पार्लर, सिलाई आदि का निःशुल्क प्रशिक्षण दिलाया जाएगा ताकि आदर्श ग्राम और हैप्पी स्कूल का सपना साकार होगा।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close