NewsUttar Pradesh

कानपुर में महिला कांस्टेबल की संदिग्ध हालात में मौत, पुलिस महकमे में हड़कंप

कानपुर के चमनगंज थाने में तैनात थी महिला सिपाही. किराये के कमरे में सहेली के साथ रहती थी

दिव्या पाण्डेय
कानपुर नगर। कानपुर में एक महिला सिपाही का शव सोमवार को उसके कमरे में मिलने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। शव मिलने की सूचना पर एसएसपी और एसपी समेत थाने की पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच पड़ताल की और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। महिला सिपाही की महिला मित्र ने आशंका जताई है कि किसी जहरीले कीड़े के काटने से उसकी मौत हुई है।

मूल रूप से मेरठ की रहने वाली मिनी चौधरी 2016 बैच की सिपाही थी। जिनकी पोस्टिंग कानपुर के चमनगंज थाने में थी| पोस्टिंग के बाद उनको पुलिस विभाग की तरफ से आवास नहीं मिल सका था इसकी वजह से वह अपनी महिला सिपाही मित्रों के साथ किराये के प्राइवेट होस्टल में रहती थी। मृतका महिला सिपाही की साथी पूर्वा का कहना है कि मिनी की रात में ड्यूटी थी। वह ड्यूटी करके सुबह तीन बजे घर आयी थी। कुछ देर बातचीत करने के बाद वो अपने कमरे में सो गई थी। सुबह नौ बजे के करीब चाय बनाकर उसको देने गए तब उसके नाक और मुंह से झाग निकल रहा था। उन्होंने बताया कि वो हमेशा काफी खुश रहती थी किसी तरह का कोई तनाव नहीं था।

महिला सिपाही का शव मिलने की जानकारी होने पर एसएसपी एसपी समेत स्वरुप नगर थाने की पुलिस मौके पर पहुंची और शव का पंचनामा करके पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। एसपी वेस्ट संजीव सुमन का कहना है कि मिनी चौधरी का 2016 में पुलिस में सलेक्शन हुआ था। जिसके बाद से वह कानपुर के चमनगंज थाने में तैनात थी। वह स्वरुप नगर क्षेत्र में किराये के होस्टल में रहती थी। जहां पर उनकी संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उन्होंने कहा है कि मामले की जांच की जा रही है।

महिला सिपाही को सरकारी आवास ना मिल पाने पर एसपी का कहना है कि सरकारी आवासों की संख्या काफी कम है जिसकी वजह से उनको आवास नहीं मिल सका।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close