CrimeUttar Pradesh

छेड़खानी से परेशान BCA की छात्रा ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

शोहदों से तंग आकर फांसी पर झूली थी बीसीए की छात्रा, प्रोफेसर के खिलाफ कार्रवाई पर अड़े छात्र

हिमानी बाजपेई शुक्ला
कानपुर नगर। छेडखानी एवं कथित पुलिस निष्क्रियता से परेशान एक छात्रा ने फांसी लगाकर जान दे दी दो लड़कों के आए-दिन छेड़ने से परेशान एक कॉलेज स्टूडेंट ने अपनी जान दे दी। इस मामले में लड़की अपने पिता के साथ पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करा चुकी थी, बावजूद लड़के अपनी हरकत से बाज नहीं आ रहे थे। आरोपी छात्र लगातार उस पर दोस्ती करने का दवाब बना रहे थे।


कल्याणपुर थाना क्षेत्र स्थित आदर्श नगर में रहने वाले डॉ. दिनेश चन्द्र शर्मा का काकादेव में डेंटल का क्लिनिक है। -परिवार में पत्नी पूनम और बेटी (मृतका) के साथ रहते हैं। मृतका कानपुर विश्वविद्यालय में BCA सेकंड ईयर की छात्रा थी। कॉलेज के ही दो लड़के अनिकेत पांडे और अनिकेत दीक्षित एश्वर्या को दोस्ती करने का दवाब बनाते थे। मृतका के पिता ने 31 जनवरी को इसकी शिकायत यूनिवर्सिटी के डायरेक्टर से की थी। डायरेक्टर ने दोनों छात्रों को बुलाकर डांट लगाई थी और सेक्शन चेंज कराने का आश्वासन दिया था। हालांकि इसके उलट विभाग की एचओडी ममता तिवारी ने एश्वर्या को ही फटकार लगा दी। इसके बाद आरोपी छात्रों की हरकतें बढ़ गई थीं। वे छात्रा को घर से उठा ले जाने की धमकी देते थे। आरोपी इमरान हाशमी की तरह पेश आने की धमकी देते थे। जब दोनों नहीं सुधरे, तब छात्रा के पिता ने पुलिस में शिकायत दर्ज करा दी। इसी रविवार को छात्रा थाने में अपने बयान दर्ज कराने गई थी। सोमवार को परेशान छात्रा पढ़ाई करने अपने रूम में गई। जब मां ने उसे खाना खाने के लिए आवाज दी, तब कोई रिस्पांस नहीं मिलने पर वे ऊपर पहुंचीं। छात्रा के परिवार वालों ने पुलिस निष्क्रियता का आरोप लगाया है। उनका कहना है कि इसी वजह से छात्रा ने पंखे से लटककर जान दी है। कल्याणपुर सीओ राजेश पाण्डेय के मुताबिक, मामले की जांच की जा रही है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close