KanpurNewsUttar Pradesh

कानपुर के नए SSP ने चार्ज लेते ही पुलिस अधिकारियों और थानेदारों की ली क्लास

एसएसपी ने कहा कि किसी भी फरियादी के साथ नाइंसाफी नही हो, थानेदार सभी की बातों को बहुत ही सही ढंग से सुनें और तत्काल उसका निस्तारण करें।

श्वेता मिश्रा
कानपुर नगर। शहर के नए कप्तान अनंत देव तिवारी ने चार्ज संभालते ही पुलिस लाइन में शहर के सभी थानेदारों और पुलिस अधिकारियों के साथ क्राइम मीटिंग कर थानेदारों की क्लास लगाकर उनको सख्त निर्देश दिए। ददुआ के आतंक का खात्मा में मुख्य भूमिका निभाने वाले और एनकाउंटर स्पेस्लिस्ट के नाम से प्रसिद्ध अनंत देव ने चार्ज लेते ही पहली क्राइम मीटिंग की। जहां अपने कड़े तेवर दिखाते हुए साफ तौर पर थानेदारों को चेतावनी देते हुए निर्देशित किया कि अब किसी भी प्रकार की हीला-हवाली नहीं चलेगी।

एन्टी रोमियों सेल से रुकेगा महिला अपराध
वहीं, कप्तान ने महिला अपराधों व स्कूलों के आसपास शोहदों की धरपकड़ के साथ एंटी रोमियो सेल द्वारा की जा रही। कार्यवाही के बारे में जानकारी ली ऐसा माना जा रहा है कि क्राइम मीटिंग में सबसे पहले हाल के दिनों में हार्डकोर व इनामी बदमाशों की लिस्ट देखी। इसके बाद मातहतों के साथ उनके सफाये के लिए रणनीति व अपराधों पर अंकुश लगाने की बात कप्तान ने पुलिस कर्मियों से की। शहर में अपराध पर अंकुश लगाने के लिए सभी थानेदारों को निर्देशित किया।

फरियादियों की बात सुनकर तुरंत करें समस्या का निस्तारण
इस दौरान कप्तान ने सभी थानेदारों को आदेश दिया कि अपने-अपने क्षेत्रों में सड़क पर उतरकर गस्त करें। साथ ही अपने-अपने क्षेत्रों के हिस्ट्रीशीटर और अपराधियों की सूची तैयार कर अवगत कराएं कि कितने अपराधी जेल में हैं और कितने बहार हैं। जो अपराधी बहार हैं उनकी धड़पकड़ कर उन्हें जेल में डालें। वहीं, सामाजिक लोगों के साथ सामंजस्य स्थापित करें। किसी भी फरियादी के साथ नाइंसाफी न होनी पाए थानेदार सभी की बातों को बहुत ही सही ढंग से सुनें और तत्काल उसका निस्तारण करें।

अपराध का ग्राफ कम होने की संभावना
सूत्रों की मानें तो कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने के साथ ही अपराधियों में खौफ व आपराधिक गतिविधियों में कमी लाने के लिए नवागांतुक कप्तान की मंशा भांप जनपद पुलिस का मनोबल बढ़ा है। माना जा रहा है कि जल्द ही जिले में पुलिस द्वारा अपराधियों के सफाये के लेकर अभियान छेड़ सकती है। गौरतलब है कि नए कप्तान अनंत देव पूर्व में भी शहर में सीओ के पद पर रहते हुए अनन्त देव अपराधियों से दो-दो हाथ कर चुके हैं। इसलिए शहर के हर बारीकी के बारे में उन्हें जानकारी है। उनके आने से जिले में अपराध का ग्राफ कम होने की संभावना जताई जा रही है।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close