CrimeNewsPoliticsUttar Pradesh

कहा-यहां बच्चियां और बहनें रहती है, BJP नेताओं के एंट्री पर मुहल्ले वालों ने लगाया बैन

यहां बीजेपी नेताओं के एंट्री पर मुहल्ले वालों ने लगा दिया पूरी तरह से बैन, कहा-यहां बच्चियां और बहनें भी रहती है।

अखिलेश कुमार
इलाहाबाद। यूपी के इलाहाबाद में लोगों ने सरकार का विरोध करने का एक नायाब तरीका खोज निकाला है। इलाहाबाद शहर के शिवकुटी कॉलोनी के निवासियों ने अपने घरों के बाहर पोस्टर लगाकर लिखा है कि इस मोहल्ले में बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं का आना मना है क्योंकि यहां औरतें और बच्चियां रहती हैं।

उन्नाव रेप केस मामले के बाद राजनीतिक दल से लगायत आम नागरिक की नाराजगी का सामना बीजेपी नेताओं को करना पड़ रहा है। वहां के लोगों का कहना है कि उन्होंने ये पोस्टर इसलिए लगाया हैं क्योंकि हाल ही में बीजेपी के कई नेताओं और कार्यकर्ताओं पर महिलाओं के खिलाफ हिंसा और रेप के आरोप लगे हैं।

मोहल्ले के लोगों की माने तो देश में जिस तरह बलात्कार की घटनाओं में भाजपा नेताओं का नाम आ रहा है उस कारण लोगों के मन में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर डर है, जिस कारण उन्होंने ये पोस्टर लगाए है। बता दें कि शहर उत्तरी के शिवकुटी थाना क्षेत्र के शिवकुटी मुहल्ले में स्थानीय लोगों ने बीच सड़क पर और घरों की दीवारों में पोस्टर लगाया है, शहर उत्तरी भाजपा नेताओं का गढ़ माना जाता है ऐसे में अपने ही गढ़ में भाजपा नेताओं का प्रवेश वर्जित होना भाजपा के अच्छे दिन नहीं है।

कभी प्रदेश में पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने वाले भाजपा नेताओं का विरोध लगातार बढ़ रहा है ,जिस पार्टी और उसके नेता को लोग पलको बिठाए घुमते थे। अब उनका विरोध हो रहा है। गौरतलब है कि उन्नाव और कठुवा रेप कांड से जनता में आक्रोश में है और सरकार का विरोध हो रहा है जिस कानून व्यवस्था और महिला सुरक्षा के नाम पर सूबे में भाजपा में सत्ता मिली अब उसी मुद्दे पर खुद घिरती जा रही।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close