NewsPoliticsUttar Pradesh

कवियत्री अनामिका अंबर ने थामा शिवपाल की पार्टी (प्रसपा) का दामन, बनीं पहली प्रत्याशी

चौधरी चरण सिंह की जयंती पर आयोजित कवि सम्मेलन में पहुंची थी अनामिका अंबर। अनामिका पहली प्रत्याशी बनीं, जिन्हें शिवपाल ने मंच से किया चुनाव में उतारने का ऐलान

सौरभ शुक्ला
लखनऊ/इटावा। कवियत्री अनामिका अंबर ने रविवार को शिवपाल यादव की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी लोहिया का दामन थाम लिया। इस दौरान उन्होंने प्रसपा के टिकट पर मेरठ से लोकसभा चुनाव लड़ने की इच्छा जताई। शिवपाल यादव की मौजूदगी में उन्होंने मंच से शायरी सुनाई। शिवपाल ने भी अपने संघर्ष को मंच से साझा किया। इस दौरान शिवपाल ने अनामिका को सम्मानित भी किया।

दरअसल अनामिका अंबर चौधरी चरण सिंह की जयंती पर रविवार को आयेजित कवि सम्मेलन में इटावा पहुंची थीं। शिवपाल ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी से टिकट देने की घोषणा की। अनामिका ने अपने गृह जनपद मेरठ से चुनाव लड़ने की जताई इच्छा थी। अनामिका प्रसपा की पहली प्रत्याशी हैं, जिनकी सार्वजनिक मंच से शिवपाल सिंह ने चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। वहीं, इस मौके पर शिवपाल सिंह ने कविता पढ़ कर समाजवादी पार्टी में हुए उनके साथ व्यवहार को कविता के माध्यम से दर्द साझा किया।

कवियित्री अनामिका अम्बर को सम्मानित करते हुए शिवपाल सिंह यादव।

कवि सम्मेलन में कविताओं के भाव की धारा में बहते रहे श्रोता
देश के पूर्व प्रधानमंत्री व महान किसान नेता चौधरी चरण सिंह जी के 116वीं जयंती के अवसर पर सैफई स्थित पीजी कॉलेज में कवि सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमें देश के नामचीन कवियों ने अपनी रचनाओं से लोगों को सराबोर कर दिया। कवि सम्मेलन में शब्दों के रंग और तालियों की गड़गड़ाहट के बीच ठहाकों की गूंज दिखी। कभी पड़ोसी देश की चुनौतियों के जवाब में कविता पढ़कर लोगों में रचनाकारों ने जोश भरा तो कभी नारी वेदना और मौजूदा सामाजिक परिस्थितियों की तस्वीरों रचनाओं से उभारकर दर्शकों को भावुक किया। कवि सम्मेलन की शुरुआत मशहूर कवित्री अनामिका अंबर ने सरस्वती वंदना के साथ की। इसके बाद अनामिका ने ’मेरा ईश्वर तेरा अल्ला मालिक एक है सबका, मेहरबानी हो उसकी तो मुकद्दर जाग उठता है३’ सुना सबको झूमने पर मजबूर कर दिया।

वहीं कार्यक्रम की अगली कड़ी में हास्य व्यंग्य के मशहूर कवि अरुण जेमिनी ने मोर्चा संभाला और सभागार में मौजूद लोगों को जमकर गुदगुदाया। इसके साथ ही इन्होंने राजनीतिक व्यंग करते हुए मध्यप्रदेश, राजस्थान व छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव परिणाम का जिक्र किया। इसके बाद नैनीताल से आई गौरी मिश्रा ने सुनाया कि ’घिरे रहते घटाओं से बड़ी घमघोर लगते हो, कभी मायूस होते हो तो थोड़ा बोर लगते हो’ जिसपर युवा झूम उठे। इसके बाद सतीश मधुप, कुमार मनोज, रौनक इटावी, रोहित चौधरी, योगिता चौहान, राजीव राय ने अपनी गीतों से महफ़िल में चार चांद लगाया।

इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के तौर पर प्रगतिशील समजवादी पार्टी लोहिया के नेता व प्रमुख शिवपाल सिंह यादव मौजूद रहे। इसके साथ ही पूर्व विधायक अनिल यादव, पूर्व विधायक रघुराज सिंह शाक्य, पूर्व मंत्री सुभाष चंद्र यादव, कुसुम देव यादव, राम सेवक यादव पूर्व मंत्री, प्रसपा राष्ट्रीय महासचिव रामनरेश मिनी आदि भी मौजूद रहे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close