IndiaPolitics

करोड़ों की परियोजनाओं का किया शिलान्यास,बदल रहा है काशी : राष्ट्रपति कोविंद

मंजुला द्विवेदी
वाराणसी/नई दिल्ली। राष्ट्रपति बनने के बाद पहली बार रामनाथ कोविंद सोमवार को वाराणसी पहुंचे. जहां राष्ट्रपति ने बड़ा स्थित दीनदयाल हस्तकला संकुल में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रीय राजमार्ग से जुड़ी साढ़े तीन हजार करोड़ की परियोजनाओं की आधारशिला की नींव रखी. साथ ही उन्होंने कौशल विकास मिशन के तहत प्रशिक्षित 10 युवाओं को विभिन्न कंपनियों की ओर से नियुक्ति पत्र सौंपा. इस दौरान सूबे के राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत प्रदेश सरकार के कई मंत्री एवं जनप्रतिनिधि भी मौजूद रहे।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि बतौर राष्ट्रपति बाबा काशी विश्वनाथ की नगरी में मेरी पहली यात्रा है. मेरे लिए यह अविस्मरणीय अनुभव है. उन्होंने कहा कि वाराणसी में जो भी बदलाव आ रहा है, उसमें प्राचीनता और परम्परा के साथ आधुनिक तरीके से विकास हो रहा है. यहां पर गंगा आरती के साथ आईआईटी भी मौजूद है. वाराणसी को अब स्पिरिचुएलिटी के साथ स्मार्ट सिटी की तरफ बढ़ रहा है।

रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद सुबह 11:00 बजे बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे. तकरीबन 5 घंटे प्रवास के दौरान वह कई कार्यक्रमों में शामिल होंगे. इस विशेष आयोजन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ राज्यपाल राम नाईक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अलावा मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर मौजूद रहेंगे।

राष्ट्रपति शाम को हस्तकला शंकुल पहुंचेंगे. इस दौरान उन्हें यहां रखी गई विरासत, जिसमें भारत रत्न उस्ताद बिस्मिल्लाह खान की शहनाई और प्रख्यात तबला वादक पंडित किशन महाराज के तबले के अलावा अन्य कई महत्वपूर्ण चीजों को दिखाया जाएगा।

राष्ट्रपति आगमन के मद्देनजर पुलिस ने भी सुरक्षा व्यवस्था के तहत 10 कंपनी पीएसी अर्धसैनिक बलों की तैनाती की है. साथ में लोकल पुलिस के 10 एसपी, 15 एएसपी, 25 सीओ, 200 इंस्पेक्टर और भारी संख्या में सब इंस्पेक्टर और कॉन्स्टेबल तैनात किए गए है।
J

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close