Article | Story | Opinion

एक भारत, श्रेष्ठ भारत, हम इसे बनाएं !!

गीत --

क भारत ,श्रेष्ठ भारत ,हम इसे बनाएं
चलो मिलजुल कर सब इसे सजाएं

इस धरती से उस अम्बर तक
दुनिया के पहले नम्बर तक
सोचें कैसे इसको हम आगे लाएं
चलो मिलजुल कर सब इसे सजाएं

दुनिया जीत आएं यहां तक
पहुंचेगे हम हिमशिखर तक
सोचे कैसे उस ऊंचाई मे ,हम जाएं
चलो मिलजुल कर सब इसे सजाएं

आदर्शों में जाएं राम तक
प्रीत में जाएं श्याम तक
सोचे कैसे उस यश तक , हम जाएं
चलो मिलजुल कर सब इसे सजाएं

एक भारत ,श्रेष्ठ भारत ,हम इसे बनाएं
चलो मिलजुल कर सब इसे सजाएं।


                                 –शशि पाण्डेय (नई दिल्ली )
        (लेखिका हास्य-व्यंग्य की श्रेष्ठ रचनाकार है।)

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close