NewsUttar Pradesh

उधार का नव वर्ष हम क्यों मनाए, जब हमारी संस्कृति, काल गणना इतनी वैज्ञानिक हैं : हिन्दू जागरण मंच

मंच के प्रांतीय मन्त्री एवं प्रभारी विमल द्विवेदी ने युवा पीढ़ी को नशे के कुचक्र मे फँसने से बचने की अपील करते हुए इसके बहिस्कार का आवाहन किया।

आकांक्षा सिंह
उन्नाव। हिन्दू जागरण मंच ने विगत वर्षों की भांति अंग्रेजी नववर्ष शुरू होने के पहले हिन्दू समाज से मानसिक गुलामी के प्रतीक अँग्रेज़ी नव वर्ष को न मनाने की अपील की है इस दिन पर होने वाली पाश्चात्य सभ्यता के फूहड़ प्रदर्शन को पेश किया जाना भारतीय परंपरा के लिए जहर बताया इस पर मंच के प्रांतीय मन्त्री एवं प्रभारी विमल द्विवेदी ने युवा पीढ़ी को नशे के कुचक्र मे फँसने से बचने की अपील करते हुए इसके बहिस्कार का आवाहन किया।

उन्होंने कहा मिशनरीज स्कूल, बॉलीवुड द्वारा सनातन धर्म के विरुद्ध व्यापक अभियान चलाने से नई पीढ़ी अपने धर्म से दूर होती जा रही है। जिसे रोकना होगा क्यों की गौ, गंगा, गायत्री, वेद के बिना हिंदू समाज का अस्तित्व नही है। मठ मंदिरो को पुनः अपने स्वरुप में लौटाना होगा। जहाँ से वेदों, उपनिषदों इत्यादि भारतीय ज्ञान का प्रसार हो सके जो समाज के कल्याण का एक सशक्त माध्यम हैं, इसके लिए हिन्दू जागरण मंच युवाओं से अधिक से अधिक जुड़ने व जनजागरण करने का आवाह्न करता है।

इस अवसर पर मंच के जिलाध्यक्ष अजय त्रिवेदी, प्रवक्ता विनय द्विवेदी, नगर अध्यक्ष विकास सिंह सेंगर, नगरमहामन्त्री धर्मेन्द्र शुक्ला, नगर युवाप्रभारी नीतेश तिवारी, जिला युवा प्रभारी मनीष अवस्थी, सफीपुर अध्यक्ष गुड्डू मिश्रा, मोना पाण्डेय आदि दर्जनों भगवा रक्षक मौजूद रहे।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close