NewsUttar Pradesh

‘इनकम टैक्स रेड’ में हवाला कारोबारी के पास से मिला 100 किलो सोना, 10 करोड़ कैश

बुधवार को शुरू हुई छापेमारी के दौरान यह भी खुलासा हुआ कि 'रस्तोगी एंड संस' के नाम से हवाला का कारोबार और सर्राफ का धंधा चलता है। ‘रस्तोगी बंधु’ के पुश्तैनी सूदखोरी के धंधे में 60 करोड़ रुपये से अधिक खपाए जाने का खुलासा हुआ भी है।

अखिलेश कुमार अग्रहरि
लखनऊ।  आयकर विभाग द्वारा राजधानी लखनऊ के राजा बाजार निवासी कन्हैया लाल रस्तोगी एवं संजय रस्तोगी के पांच ठिकानों पर आयकर विभाग ने एक साथ छापा मारा। 36 घंटे की छापेमारी के दौरान रस्तोगी बंधु के पास से 100 किलो सोना और 10 करोड़ रुपये का कैश जब्त किया गया। जब्त किए गए सोने की कीमत 31 करोड़ रुपये आंकी जा रही है। इतना ही नहीं रस्तोगी परिवार के नाम 98 करोड़ की अघोषित संपत्ति के दस्तावेज भी बरामद हुए हैं। आयकर विभाग की यूपी में अब तक की यह सबसे बड़ी बरामदगी बताई जा रही है। जांच अब भी जारी है, अभी कई लॉकर खोले जाने हैं।

हवाला करोबारी के घर पर पड़ा छापा
इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीम ने मंगलवार को यूपी के पुराने लखनऊ निवासी कारोबारी कन्हैयालाल रस्तोगी के 6 से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी की थी। टैक्स चोरी की पुख्ता सूचना मिलने के बाद आयकर विभाग की टीम ने राजा बाजार के सुभाष मार्ग स्थित कन्हैयालाल रस्तोगी के घर पर छापेमारी शुरू की। आयकर विभाग की टीम को यह जानकारी मिली थी कि बड़े पैमाने पर गलत तरीके से रुपयों का लेन-देन कर टैक्स चोरी की जा रही है। पिछले कई दिनों से आयकर विभाग की टीम की नजर कन्हैयालाल रस्तोगी के कारोबार थी

बड़े जूलर्स भी उनके पास जूलरी गिरवी रखकर ब्याज पर पैसा लेते थे
टीम को कुछ ऐसे भी दस्तावेज मिले हैं, जिनमें शहर के कई बड़े कारोबारियों से लेन-देन का जिक्र है। अब आयकर विभाग की टीम उन लोगों से भी पूछताछ कर सकती है। बताया जा रहा है कि, शहर में बड़े-बड़े जूलर्स भी उनके पास जूलरी गिरवी रखकर ब्याज पर पैसा लेते थे। हवाला करोबारी की सूद, रियल इस्टेट और भट्ठे आदि की भी कई कंपनियां हैं। विदेशों में कई बड़े प्रोजेक्ट में निवेश किए हैं।

विदेशों में इनवेस्ट किए करोड़ों रुपए
दो दिनों की पड़ताल के बाद से कन्हैया लाल रस्तोगी के यहां से 8.08 करोड़ रुपये बरामद हुए जिनमें से आठ करोड़ रुपये आयकर ने सीज कर दिए। इसके अलावा 87 किलो सोने के बिस्कुट बरामद हुए, दो किलो सोने-चांदी। जबकि करोड़ों रुपये की बेनामी जमीन की खरीद फरोख्त भी की गई जिसके दस्तावेज आयकर के हाथ लगे हैं।

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Close